Normal view MARC view ISBD view

सामुदायिक ग्रामीण विकास : Samudayik Gramin Vikas/ बैजनाथ सिंह,

By: सिंह, बैजनाथ.
Contributor(s): Singh, Baijnaath.
Publisher: नई दिल्ली : नेशनल बुक्स ट्रस्ट , 2011Description: 165 p.Subject(s): Rural sociology | Rural - sociological -development | VillagesDDC classification: 307.72 Summary: यह पुस्तक गाँवों में रहने वालों में स्वावलंबन, स्वाभिमान, और सतत परिश्रम की भावना जागृत करने का प्रयास करती है | खेती के साथ साथ शिक्षा, स्वास्थ्य, श्रमदान, कुटीर उद्योग] और आय के अन्य साधन किस तरह के आदर्श गाँव की परिकल्पना को साकार कर सकते है, इस तथ्य को लेखक अपने अनुभवों के साथ प्रस्तुत कर रहे है |
List(s) this item appears in: हिंदी पुस्तकें
Tags from this library: No tags from this library for this title. Log in to add tags.
    average rating: 0.0 (0 votes)
Item type Current location Collection Call number Status Date due Barcode Item holds
Books Books Hindi Hindi Collection 307.72 SIN-S (Browse shelf) Available 011182
Total holds: 0

यह पुस्तक गाँवों में रहने वालों में स्वावलंबन, स्वाभिमान, और सतत परिश्रम की भावना जागृत करने का प्रयास करती है | खेती के साथ साथ शिक्षा, स्वास्थ्य, श्रमदान, कुटीर उद्योग] और आय के अन्य साधन किस तरह के आदर्श गाँव की परिकल्पना को साकार कर सकते है, इस तथ्य को लेखक अपने अनुभवों के साथ प्रस्तुत कर रहे है |

There are no comments for this item.

Log in to your account to post a comment.

Click on an image to view it in the image viewer

Library, SPA Bhopal, Neelbad Road, Bhauri, Bhopal By-pass, Bhopal - 462 030 (India)
Ph No.: +91 - 755 - 2526805 | E-mail: library@spabhopal.ac.in

OPAC best viewed in Mozilla Browser in 1366X768 Resolution.